CG UPSC : यूपीएससी की तैयारी के लिए रायपुर में खुलेंगे शीर्ष कोचिंग इंस्टीट्यूट्स

Team 24 News
5 Min Read
CG UPSC

छत्तीसगढ़ में यूपीएससी के उम्मीदवारों के लिए बड़ी खुशखबरी

CG UPSC News: यूपीएससी की तैयारी के लिए रायपुर में खुलेंगे शीर्ष कोचिंग इंस्टीट्यूट्सछत्तीसगढ़ में यूपीएससी की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है। अब उनके सपनों को साकार करने का सुनहरा मौका मिल सकता है। देश के शीर्ष सिविल सर्विस कोचिंग इंस्टीट्यूट्स अब रायपुर में अपनी शाखाएं खोलने जा रहे हैं, जिससे राज्य के अनुसूचित जाति, जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थियों को उच्च स्तरीय कोचिंग की सुविधा अपने ही राज्य में उपलब्ध हो सकेगी। इसके लिए आदिम जाति विकास विभाग ने पूरी तैयारी शुरू कर दी है।

मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय की पहल

मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय के निर्देश पर आदिम जाति विकास विभाग के प्रमुख सचिव सोनमणि बोरा ने दिल्ली के ट्राइबल यूथ हॉस्टल का दौरा किया और वहां के छात्रों से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने कोचिंग इंस्टीट्यूट्स के प्रतिनिधियों से भी बातचीत की और इन संस्थानों द्वारा छात्रों को दी जाने वाली सुविधाओं और अध्ययन पद्धतियों के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त की।

रायपुर में कोचिंग इंस्टीट्यूट्स की स्थापना

प्रमुख सचिव सोनमणि बोरा ने रायपुर में कोचिंग इंस्टीट्यूट्स की शाखाएं खोलने के संबंध में चर्चा की और पूछा कि इन संस्थानों को शासन से किस प्रकार की सहायता की आवश्यकता होगी। उन्होंने कोचिंग संस्थानों से एक हफ्ते के भीतर अपनी रिपोर्ट विभाग को भेजने के लिए कहा है, ताकि योजना को तेजी से अमल में लाया जा सके।

शिक्षा और सुविधाओं में सुधार के निर्देश

बोरा ने दिल्ली के ट्राइबल यूथ हॉस्टल में छात्रों की शिक्षा और करियर संबंधी समस्याओं को सुना और समाधान के लिए आवश्यक कदम उठाने का आश्वासन दिया। उन्होंने छात्रों की सुविधाओं को और बेहतर बनाने पर जोर दिया, ताकि वे बिना किसी बाधा के अपनी पढ़ाई पर ध्यान केंद्रित कर सकें। इसके साथ ही उन्होंने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को आवश्यकतानुसार एयर कंडीशनर लगाने और मेस को सुव्यवस्थित ढंग से तैयार करने के निर्देश दिए।

गुणवत्तापूर्ण कोचिंग और अनुकूल वातावरण की आवश्यकता

मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय ने कहा कि विद्यार्थियों को गुणवत्ता पूर्ण कोचिंग के साथ-साथ बेहतर वातावरण उपलब्ध कराना बेहद जरूरी है। रायपुर में कोचिंग इंस्टीट्यूट्स खुलने से विद्यार्थियों को एक अनुकूल वातावरण मिलेगा, जिसमें वे अपनी पढ़ाई में बेहतर प्रदर्शन कर पाएंगे। आदिम जाति और अनुसूचित जनजाति मंत्री राम विचार नेताम ने भी कहा कि सरकार शिक्षा के महत्व को समझती है और आदिवासी और अनुसूचित जाति के विद्यार्थियों को सर्वोत्तम शिक्षा और सुविधाएं प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है। यह योजना उनके भविष्य को उज्ज्वल बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी।

रायपुर से दिल्ली तक का सफर

विद्यार्थियों को सिर्फ सिलेबस पढ़ाना ही महत्वपूर्ण नहीं है, बल्कि उन्हें एक अनुकूल वातावरण भी प्रदान करना जरूरी है, जिससे वे मानसिक रूप से परीक्षा के लिए तैयार हो सकें। इसी उद्देश्य से रायपुर में कोचिंग शुरू की जा रही है। रायपुर में तैयारी के बाद विद्यार्थी यदि चाहें तो आगे की तैयारी के लिए दिल्ली भी जा सकते हैं। प्रमुख सचिव ने बताया कि मुख्यमंत्री और विभाग के मंत्री राम विचार नेताम के निर्देश पर दिल्ली के साथ-साथ छत्तीसगढ़ में भी प्रतिष्ठित सिविल सर्विस कोचिंग इंस्टीट्यूट्स की शाखाएं खोलने की योजना तैयार की गई है।

राज्य सरकार की पहल और उसका उद्देश्य

राज्य सरकार की इस पहल का मुख्य उद्देश्य विद्यार्थियों को उच्च गुणवत्ता की शिक्षा और कोचिंग प्रदान करना है, जिससे उनका करियर संवर सके। दिल्ली के प्रमुख कोचिंग इंस्टीट्यूट्स की रायपुर में शाखाएं खोलने से विद्यार्थियों को राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगी परीक्षाओं में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने का अवसर मिलेगा और उनका आत्मविश्वास भी बढ़ेगा। इस प्रकार की गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा से वे अपने सपनों को साकार कर सकेंगे और देश के सिविल सर्विस में उच्च स्थान प्राप्त कर सकेंगे।

Share This Article
Follow:
हम आपको योजना और मनोरंजन, नौकरी और शिक्षा से संबंधित समाचार प्रदान करते हैं। हम वेब सीरीज, टीवी शो, तकनीक सम्बन्धी समाचार, वेब-कहानियां, ऋण, बीमा, पैसे कमाने, cryptocurrency, शेयर बाजार, ऑटो और अन्य मुद्दों पर आपको नवीनतम जानकारी प्रदान करने का प्रयास करते हैं।हमारा मिशन है आपको सटीक, विश्वसनीय और उपयोगी समाचार प्रदान करके आपको ज्ञानवर्धक और रोचक सामग्री साझा करना। हम अपडेटेड खबरों का संग्रह करते हैं और इसे विभिन्न श्रेणियों में विभाजित करके आपके लिए सरल बनाते हैं ताकि आप आसानी से अपनी पसंदीदा विषयों पर पढ़ सकें।